उम्मीदों की उड़ान को मिला बॉलीवुड का आसमान : प्रज्ञा महेश्वरी

 ( धर्मेन्द्र  साहू )
मुम्बई। बलखाते बाल, स्वभाव में पानी सी सरलता , मुस्कान में मदहोशी और फिर अपनी अनोखी बातों के बीच एकदम खामोशी । इस व्यक्तित्व का नाम है प्रज्ञा महेश्वरी ।
बुंदेलखंड इलाके से ताल्लुक रखने वाली प्रज्ञा महेश्वरी ने दिल्ली के एक नामी इंस्टीट्यूट से मास कम्युनिकेशन का कोर्स किया है। बाद में एक प्रतिष्ठित न्यूज़ चैनल में उन्होंने एक वर्ष तक पत्रकारिता की लेकिन थिऐटर के प्रति लगाव होने से मंडी हाउस में स्थित थिएटर हाउस में ऑडिशन देने गईं तो सिलेक्ट हो गई । फिर वहां थियेटर में प्ले किया । थियेटर में पारंगत होने के बाद मुम्बई आ गईं। मुम्बई में भी प्रज्ञा ने कई थिएटर प्ले किये जिसके चलते महिंद्रा एस यू वी  के लिए एक विज्ञापन फिल्म करने का मौका मिला।
प्रज्ञा चूंकि पत्रकारिता से जुड़ी रही हैं इसलिए वे इन दिनों क्राइम पेट्रोल , सावधान इंडिया और क्राइम अलर्ट जैसे  शोज़ की स्क्रिप्ट भी लिख रही हैं। एक हुनरमंद लेखक की तरह उनकी स्टोरीज़ खूब पसंद की जाती हैं।
प्रसिद्ध रंग कर्मी दिनेश खन्ना के साथ इन्होंने थिएटर प्ले किये हैं। साथ ही प्रसिद्ध कलाकार पंकज कपूर के साथ प्रज्ञा थिएटर प्ले कर रही हैं। उनका कहना है कि पंकज कपूर के साथ काम करने का अपना अलग ही अनुभव है क्योंकि वे एक सरल हृदय और मंझे हुए कलाकार हैं। उनसे कला की विभिन्न जानकारियां मिल रही हैं।
पिछले चार साल पहले बॉलीवुड में आईं प्रज्ञा ने ‘टी फॉर ताज महल’ और नील नितिन मुकेश के साथ ‘दशहरा’ फिल्म में  एक्टिंग की है। उन्होंने कहा कि मेरी मम्मी श्रीमती नीना महेश्वरी और पापा कौशल महेश्वरी उन्हें खूब प्रोत्साहित करते है जिसके ,चलते वे फ़िल्मी दुनिया में सफलता की राह पर आगे बढ़ रही है। प्रज्ञा का कहना है कि उनका लक्ष्य है बड़ी फिल्में करना और उम्मीद है कि आने वाले समय में वे बड़ी फिल्मों में अच्छे किरदार करेंगी।
बॉलीवुड के अपने अनुभव साझा करते हुए प्रज्ञा बताती हैं कि दुनिया के हर क्षेत्र में संघर्ष है लेकिन फिल्म इंडस्ट्री में आपको ऑनस्क्रीन अपने आपको साबित करना होता है । इसलिए इधर 100 प्रतिशत एफर्ट की जरुरत होती है । उन्होंने कहाकि मेरी उम्मीदों की उड़ान भरने के लिए बॉलीवुड आसमान है ।
0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: