अक्षय के कमेंट का गलत मतलब नहीं : ट्विंकल खन्ना 

 

नई दिल्ली: अक्षय के कमेंट का गलत अर्थ निकाला जा रहा है।  वे ऐसे इंसान नहीं है कि किसी पर भी फब्ती कसें। ये कहना है ट्विंकल खन्ना का  अक्षय कुमार इन दिनों टेलीविजन शो ‘द लाफ्टर चैलेंज’ में फैंस को काफी गुदगुदा रहे हैं लेकिन इसी शो के दौरान अक्षय के साथ शो को जज कर रहीं मल्लिका दुआ पर एक टिप्पणी के चलते खिलाड़ी कुमार नए विवादों में उलझ गए हैं ऐसे में उनका साथ देने के लिए ट्विंकल खन्ना ने सोशल मीडिया पर एक ट्वीट किया है.

ट्विंकल खन्ना ने ट्विटर पर लिखा, ‘मैं द लाफ्ट चैलेंज के सेट पर शुरू हुए विवाद में अपनी राय रखना चाहूंगी. इस शो में एक बैल है जिसे शो के जज को प्रतिभागी के बेहतरीन प्रदर्शन के बाद बजाना होता है. इसी के चलते जब मल्लकि दुआ इस बैल को बजाने के लिए आगे बढ़ी तो अक्षय कुमार ने कहा, “मल्लिका जी आप बैल बजाओ मैं आपको बजाता हूं.” ये शब्दों का खेल है और बैल बजाने को लेकर हमारे एक्शन. ये एक ऐसी कहावत है जिसे पुरुष और महिलाएं सभी इस्तेमाल करते हैं. जैसे- “मैं उसे बजाने जा रहा हूं/ मैं उसे बजाने जा रही हूं” या “आज तो मेरी बज गई.” यहां तक की रेड एफएम की भी टैग्लाइन हैं ‘बजाते रहो.’ इनमें से कोई भी सेक्स के लिए इस्तेमाल नहीं किया जा सकता. श्री विनोद दुआ, मलिलका दुआ के पिता जी ने भी एक पोस्ट लिखा जिसमें उन्होंने कहा था कि ‘मैं इस बेफकूफ अक्षय कुमार को पेंच कर दूंगा.’ क्या उनके इस वाक्य को भी सीधे सीधे लेना चाहिए या घुमा फिरा कर? शब्द, और खासकर उनके मतलब को सही तरीके से समझा जाना चाहिए. मैं हमेशा से स्वतंत्रता के साथ हूं.

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: