एक्टिंग से लोगों को हंसाना अच्छा लगता है : अनूप उपाध्याय

धर्मेन्द्र साहू
मुम्बई। मशहूर कलाकार अनूप उपाध्याय का कहना है कि जब लोग मेरी एक्टिंग देखकर हंसते हैं तो मुझे अच्छा लगता है और सही मायने में दिली सुकून मिलता है।
खास रिपोर्ट डॉट कॉम से ‘जीजाजी छत पर हैं’ के सेट पर बातचीत करते हुये अनूप उपाध्याय ने बताया कि वे मूलरूप से उत्तर प्रदेश के कासगंज के रहने वाले हैं। शुरूआती समय में लगभग आठ साल तक दिल्ली में कई थियेटर प्ले किये। बाद में मुम्बई आ गये। मुम्बई में पिछले 28 सालों से वे इस इंडस्ट्री में हैं।
अनूप इन दिनों सोनी सब टीवी के मशहूर शो ‘जीजाजी छत पर हैं’ में सेठ मुरारीलाल बंसल का किरदार निभा रहे हैं। इसके जरिये वे दर्शकों को हंसा-हंसाकर लोटपोट कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि शो के राइटर मनोज संतोषी और डायरेक्टर शशांक बाली ने आम बोलचाल की भाषा में ये शो तैयार किया है और शालीन कॉमेडी के माध्यम से इसे उम्दा शो बनाया है।
प्रसिद्ध शो ‘भाभीजी घर पर हैं’ में भी अनूप लगातार अभिनय कर रहे हैं। इसके अलावा वे एफ.आई.आर., लापतागंज और नीली छतरी वाले जैसे दर्जनों सीरियलों में अपनी कला का लोहा मनवा चुके हैं।
उन्होंने कहाकि आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में आपकी वजह से लोग दो-चार पल हंस लें, ये बहुत बड़ी बात मैं मानता हॅूं । उन्होने कहाकि हल्की-फुल्की कॉमेडी के जरिये वे लोगों को हंसाने का प्रयास करते हैं और सही मायने में लोगों को हंसते देखकर मुझे दिली सुकून मिलता है। उन्होने कहाकि अगर अपने द्वारा कोई अच्छा काम होता है तो वो जीवन की सबसे बड़ी पूंजी होती है।

 

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: