हिन्दी साहित्य के पुरोधा डॉ.रामगोपाल शर्मा ’दिनेश‘ को महात्मा गांधी साहित्य सम्मान

(धर्मेन्द्र साहू)
लखनऊ। हिन्दी साहित्य जगत के सशक्त हस्ताक्षर डॉ.रामगोपाल शर्मा ’दिनेश‘ को उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान ने महात्मा गांधी साहित्य सम्मान से नवाजा है। डॉ. दिनेश को चार लाख रूपये का चेक व प्रशस्ति पत्र भेंट किया गया।
पिछले दिनों लखनऊ के हिन्दी साहित्य संस्थान के ऑडोटोरियम में आयोजित समारोह में विधानसभा अध्यक्ष हृदयनाथ दीक्षित ने वरिष्ठ साहित्यकार डॉ.रामगोपाल शर्मा ’दिनेश‘ को महात्मा गांधी साहित्य सम्मान से अलंकृत किया। तालियों की गड़गड़ाहट के बीच डॉ. शर्मा को चार लाख रूपये का चेक और प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया। इस दौरान वक्ताओं ने हिन्दी साहित्य में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका की भूरि-भूरि प्रशंसा की।
उल्लेखनीय है कि 90 वर्षीय डॉ.रामगोपाल शर्मा ’दिनेश‘ अभी भी हिन्दी साहित्य की सेवा में संलग्न हैं। उनके द्वारा लिखित नाटक, उपन्यास, समालोचना, कहानी संग्रह और कविता संग्रह की लगभग 138 पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं।
आज की पीढ़ी के लिये उनका जीवन प्रेरणादायक है। वे कहते हैं कि गति ही जीवन है इसलिये अपने द्वारा सकारात्मक कार्य सतत करते ही रहना चाहिये।

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: