विधायक राजीव सिंह पारीछा ने स्कूलों की फीस कम करने का ये फार्मूला बताया

झाँसी : कोरोना संकट के दौरान लॉकडाउन में अच्छे-अच्छों की हालत खस्ता हो गई है । खासकर ऐसे मध्यमवर्गीय और गरीब परिवार जो प्राईवेट नौकरी और दैनिक धंधे पर आश्रित हैं। ऐसे में उनके लिए अपने बच्चों की स्कूली फीस भरना काफी मुश्किल हो गया है। झाँसी के बबीना क्षेत्र से भाजपा विधायक राजीव सिंह पारीछा ने इस समस्या के निस्तारण के लिए एक फार्मूला पेश किया है। इससे न तो अभिभावकों पर ज्यादा बोझ पड़ेगा और न ही स्कूल संचालकों को ज्यादा नुकसान होगा।
स्थानीय प्रशासन और प्रदेश सरकार को लिखे पत्र में भाजपा विधायक राजीव सिंह पारीछा ने प्राईवेट स्कूलों में ली जा रही अवकाशकालीन फीस को लेकर सुझाव दिया है। उन्होंने बताया कि कोरोना लॉकडाउन के दौरान विद्यालय पूरी तरह बंद रहे हैं ऐसे में जाहिर तौर पर स्कूलों का मेंटीनेंस और नियमित खर्च काफी कम हुआ होगा। उन्होंने कहाकि यदि स्कूल प्रबंधन इन तीन महीनों का ये मेंटिनेंस शुल्क कम करके फीस लें तो प्रतिमाह की फीस में 25 से 30 प्रतिशत की कमी हो जाएगी यानि अभिभावकों को तीन महीनों की फीस में से अनुमानित एक माह की फीस से राहत मिल सकती है और स्कूल प्रबंधन को भी स्टाफ आदि की पेमेंट बांटने में कोई दिक्कत नहीं आएगी।
विधायक राजीव सिंह ने कहाकि सरकार और स्थानीय प्रशासन उनके इस फार्मूले को लेकर कोई रणनीति जरूर बनाएगा ऐसी उन्हें उम्मीद है। उन्होंने कहाकि ये समय एक-दूसरे का सहयोग करने का है। इसलिये स्कूल प्रबंधन को भी इसमें पहल करनी चाहिए।

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: