ई-मोबिलिटी पर आधारित रहा ताइवान एक्सपो का दूसरा संस्करण 

(ख़ास रिपोर्ट ब्यूरो)
नई दिल्ली। सेल्फ-सर्विसकॉपियर से लेकर एआई ऑटो ट्रैकिंग पीटीजेड कैमरा तक, हेल्थकेयर-ग्रेड टैबलेट से लेकर ई-वाहन के लिए एलसीडी डिस्प्ले तक, ताइवान एक्सपो इंडिया के दूसरेऑनलाइन संस्करण का आयोजन किया गया। इस एक्‍सपो के पहले दिन 2021 के कुछ सबसे नवीन उत्पादोंका प्रदर्शन किया गया। बहुप्रतीक्षित एक्सपो में 5 थीम, 10 पैविलियंस, 90+ ब्रांड और 200+ उत्पाद मौजूद हैं और इसका आयोजन  27 से 29 अक्टूबर 2021 तक किया गया था।
ताइवान एक्सटर्नल ट्रेड डेवलपमेंट काउंसिल (टीएआईटीआरए) द्वारा आयोजित ताइवान एक्सपो भारत सहित ताइवान और आसियान देशों के बीच संबंधों को मजबूत करने के लिए इसकी प्रमुख प्रदर्शनी साबित हुई। इस एक्सपो का मुख्य उद्देश्य भारत-ताइवान व्यवसायों की संभावनाओं का पता लगाने, विकास को बढ़ावा देने और व्यापार को मजबूत करने का अवसर प्रदान करना था।
ताइवानएक्सपो 2021 में 5 उद्योग विषय हैं – इंडस्ट्री4.0, ई-मोबिलिटी, महामारी के बाद का युग, ताइवान की जीवनशैली, पर्यटन और संस्कृति। यहां मौजूद 10 पैविलियंस में आईसीटी उत्पादों, विद्युत उपकरण, चिकित्सा उपकरणों, हेल्‍थ एवं पर्सनल केयर में तकनीक एवं नवाचारों की व्‍यापक रेंज का प्रदर्शन किया गया। ताइवान के 90 से अधिक ए-लिस्टेड ब्रांडों ने अपने 200+ उच्चगुणवत्ता वाले उत्पादों को प्रदर्शित किया है। पैविलियंस में स्वतंत्र प्रदर्शक, ताइवान एक्सिलेंस, ताइवान उत्पाद केंद्र, ई-मोबिलिटी, मीट ताइवान, ताइवान बैम्‍बे टेक उद्योग, ताइवान टेक्सटाइल्स, ताइवान गोल्ड कार्ड, टाइट्रोनिक्स और एआईओटी ताइवान और भारत में लर्निंग बिजनेस मैंडेरिन शामिल थे।
तीन-दिवसीय इवेंट का शुभारंभ औपचारिक रूप से एक भव्य उद्घाटन समारोह के साथ किया गया। उत्पादों के विविध प्रदर्शन के साथ, एक्सपो में ‘स्मार्ट टेक्‍नोलॉजी फॉर ए ब्राइटर फ्‍यूचर’, ‘स्टार्टअप सिनर्जीज: फॉस्‍टरिंग ए कोलैबोरेटिव फ्‍यूचर’ ‘ताइवान गोल्ड कार्ड प्रमोशन’ और ‘ताइवानबैम्‍बू टेक्‍नोलॉजी’ के बारे में विशेष वेबिनार भी हुए। एक्सपोका पहला दिन थ्री-डायमेंशनल वर्चुअल प्रदर्शनी हॉल में दर्शाया गया था, जिसे वास्तविक शो के अनुभव को फिर से बनाने के लिए बनाया गया था। तीन दिन की अवधि के लिए दर्शकों के लिए रीयल-टाइम में पैविलियन के प्रदर्शकों से संपर्क करने का विशेष प्रावधान भी किया गया।
इस सालके प्रमुख आकर्षण थीम वाले पैवेलियन वे हैं जो उन उद्योगों को प्रदर्शित करेंगे, जिनमें ताइवान उत्कृष्ट है। दूसरी ओर ई-मोबिलिटी, ताइवान बैम्‍बू टेक उद्योग और ताइवान गोल्ड कार्ड पर मुख्य ध्यान दिया गया। ताइवान एक्सपो जैसे मंच भारत और ताइवान दोनों को व्यापारिक विचारों का आदान-प्रदान करने और सहयोग करने का एक शानदार अवसर प्रदान करते हैं। कई द्विपक्षीय समझौतों से प्रेरित होकर, दोनों देशों के बीच संबंधों ने पिछले कुछ वर्षों में अधिक गति प्राप्त की है। आश्चर्य की बात नहीं है कि भारत और ताइवान के बीच द्विपक्षीय व्यापार वित्त वर्ष 2006 में 2 अरब डॉलर से बढ़कर वित्त वर्ष 19 में 7 अरब डॉलर हो गया, जो 250% की बढ़त है। साथ ही, वित्तीय वर्ष 18 और वित्तीय वर्ष 19 के बीच ताइवान से एफडीआइ प्रवाह 10 गुना बढ़ा है। भारत ताइवान का 17वां सबसे बड़ा व्यापारिक भागीदार था और 2020 में ताइवान भारत का 31वां सबसे बड़ा व्यापारिक भागीदार था।
ताइवान एक्‍सटर्नल ट्रेड डेवलपमेंट काउंसिल के चेयरमैन जेम्स सी. एफ. हुआंग ने कहा, “ताइवान और भारत स्वाभाविक भागीदार हैं। 3 साल पहले नई दिल्ली में हमारे पहले ताइवान एक्सपो के बाद से, हमने जबरदस्त टीम वर्क देखा है। हमारा एक मुख्य प्रयास एक नई वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला बनाने और इसे मजबूत बनाने में मदद करना है। हम ताइवान की कंपनियों को भारत के प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव में भाग लेने में मदद कर रहे हैं। भारत सरकार द्वारा अब तक 3 प्रमुख ताइवान कंपनियों को पीएलआई- विस्ट्रॉन, पेगाट्रॉन, और फ़ॉक्सकॉनके लिए मंजूरी दी गई है। हम पीएलआई के लिए स्वीकृत कई और ताइवान कंपनियों की प्रतीक्षा कर रहे हैं। वे सभी प्रमुख क्षेत्रों- 5जी, एआई, इलेक्ट्रॉनिक्स, स्मार्ट विनिर्माण, क्वांटम टेक्‍नोलॉजी, चिकित्सा सेवा और मशीनरी में भारत के आदर्श भागीदार हैं। हाल ही में टीएआइटीआरए और इन्वेस्ट इंडिया के बीच हुए समझौता ज्ञापन पर फिर से हस्ताक्षर ने हमारे घनिष्ठ द्विपक्षीय सहयोग की पुष्टि की। ताइवान एक्सपो में, हम इंडस्‍ट्री 4.0, ई-मोबिलिटी, महामारी के बाद के युग, ताइवान की जीवनशैली और पर्यटन और संस्कृति के लिए ताइवान के नवीनतम नवाचारों को प्रस्तुत कर रहे हैं। हमने बिजनेस मैचमेकिंग की सुविधा के लिए वर्चुअल मीटिंग्‍स जोड़ी हैं। अगले 3 दिनों के लिए, हम ताइवान और भारत (300 भारत, 90 ताइवान) की कंपनियों को जोड़ने के लिए 800 से अधिक मीटिंग्‍स की मेजबानी करेंगे, ताकि वे भविष्य के फायदे के लिए व्यापार के अवसरों का पता लगा सकें।
0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: