Khas Report

Official News Portal

उत्तर प्रदेश

झांसी निर्माण कार्य हैंड ओवर के लिए 05 सदस्यीय समिति गठित, टेक्निकल वेरिफिकेशन के बाद होगी बिल्डिंग/निर्माण कार्य हैडओवर

झांसी। जिलाधिकारी अविनाश कुमार ने विकास भवन सभागार में 50 लाख एवं 50 लाख से अधिक के निर्माण कार्यों व सांसद निधि के कार्यों की प्रगति की समीक्षा बैठक करते हुए कहा कि सांसद निधि के कार्यों को समस्त कार्रवाई संस्थाएं प्राथमिकता के आधार पर समय से पूर्ण करना सुनिश्चित करें। बैठक में जिलाधिकारी अविनाश कुमार ने 50 लाख से अधिक लागत की परियोजनाएं (सड़कों को छोड़कर) एवं 50 लाख से अधिक लागत की सड़क परियोजनाओं की समीक्षा करते हुए कहा कि जनपद में 50 लाख से अधिक लागत की परियोजनाओं में एक नोडल अधिकारी होगा नामित जिसके साथ एक टेक्निकल अधिकारी भी रहेगा जो प्रत्येक माह निर्माण कार्य का निरीक्षण व परीक्षण करते हुए रिपोर्ट देंगे। उन्होंने भविष्य में बिल्डिंग हैंडओवर के लिए पांच सदस्यीय समिति का गठन करते हुए निर्देश दिए की टेक्निकल वेरिफिकेशन के बाद ही बिल्डिंग अथवा अन्य निर्माण कार्य हैंडओवर किया जाना सुनिश्चित किया जाए। जिलाधिकारी ने सांसद निधि के कार्यों की समीक्षा करते हुए संबंधित कार्यदाई संस्थाओं को निर्देशित किया कि प्राथमिकता के आधार पर समय सीमा में कार्य पूर्ण करना सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि यदि कार्य अभी तक प्रारंभ नहीं किए गए हैं तो उक्त कार्यों को अति शीघ्र प्रारंभ किया। समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी अविनाश कुमार ने माननीय सांसद अनुराग शर्मा एवं माननीय सांसद भानु प्रताप वर्मा के कार्यों की बिंदु बार समीक्षा करते हुए कार्य में संवेदनशीलता एवं लापरवाही बरतने पर अधिशाषी अभियंता यूपी सीडको का अग्रिम आदेशों तक वेतन रोके जाने के निर्देश दिए। उन्होंने नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि कार्य स्वीकृत मार्च 2023 को प्राप्त हो गई परंतु कार्य अभी भी प्रारंभ नहीं किया गया है, इसे तत्काल प्रारंभ करने के निर्देश दिए।

विकास भवन सभागार में आयोजित बैठक में ₹ 50 लाख से अधिक लागत की अन्य परियोजनाओं के निर्माण कार्यों की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी अविनाश कुमार ने उपस्थित समस्त कार्यदाई संस्थाओं को निर्देश दिए कि किए जा रहे कार्य घोषित तिथि तक शत प्रतिशत पूर्ण कर लिऐं जाए। जिलाधिकारी ने उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम लिमिटेड द्वारा जनपद में 22 पुलिस थाना का निर्माण कार्य किया जाना है की समीक्षा करते हुए कहा कि समस्त धनराशि प्राप्त हो गई है अतः सभी कार्य समय से प्रारंभ करते हुए निर्धारित समय में पूर्ण किया जाना सुनिश्चित करें। उन्होंने गरौठा-गुरसराय पुनर्गठन पेयजल परियोजना की समीक्षा की और समीक्षा की धीमी प्रगति पर असंतोष व्यक्त किया। क्षेत्र में पेयजल की समस्या अधिक होने के कारण उक्त परियोजना को समय से पूर्ण किया जाना नितांत आवश्यक है। जिलाधिकारी अविनाश कुमार ने यूपीआरएनएसएस को फटकार लगाते हुए कहा कि धनराशि उपलब्ध होने के बाद भी कोई कार्य प्रारंभ नहीं किया गया उन्होंने सख्त नाराजगी व्यक्त करते हुए निर्देश दिए की समस्त कार्य अति शीघ्र प्रारंभ किए जाएं ताकि निर्माण पूर्ण होने पर आमजन को लाभ प्राप्त हो सके। उन्होंने मेडिकल कॉलेज में बना रहे 500 बेड के अस्पताल की प्रगति असंतोषजनक पाए जाने पर फटकार लगाते हुए निर्देश दिए कि माननीय मुख्यमंत्री द्वारा भ्रमण किए जाने के बाद भी कार्य में संतोषजनक प्रगति नहीं है। उन्होंने सीएंडडीएस उ0प्र0 जल निगम द्वारा निर्माणाधीन राजकीय डिग्री कॉलेज कटेरा की जानकारी प्राप्त की और निर्देश दिए कि उपलब्ध धनराशि के सापेक्ष कार्य में प्रगति लाएं। उन्होंने कार्यदाई संस्था यूपी सिडको द्वारा 07 कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय टपरियन बरुआसागर में छात्रावास का निर्माण रूपा धमना में छात्रावास का निर्माण आदि की विस्तृत जानकारी प्राप्त की और निर्देश दिए कि जो कार्य पूर्ण हो गए हैं उनको हैंडोवर करते हुए शेष अन्य निर्माण कार्य गुणवत्ता सहित समय सीमा में ही पूर्ण किया जाना सुनिश्चित किया जाए। निर्माण कार्यों की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी अविनाश कुमार ने ग्रामीण अभियंत्रण विभाग की परियोजनाओं की समीक्षा की और तहसील मऊरानीपुर मुख्यालय पर निर्माणाधीन अग्नि समाज केंद्र की प्रगति पर सख्त नाराजगी व्यक्त करते हुए निर्देश दिए की कार्य समय से पूर्ण किया जाए । बैठक में मुख्य विकास अधिकारी जुनैद अहमद, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ सुधाकर पांडेय. ज्वाइंट मजिस्ट्रेट उत्कर्ष द्विवेदी, परियोजना निदेशक राजेश कुमार, अधिशासी अभियंता पीडब्लूडी राहुल शर्मा सहित समस्त कार्यदाई संस्थाओं के जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *